बुधवार, 4 अप्रैल 2018

Japanese Lesson -11

पीछे वाली पोस्ट पर जाना चाहें तो यहां क्लिक करिये और अगर शुरू से पढ़ना चाहें तो यहाँ क्लिक कर सकते हैं !!
उम्मीद करता हूँ कि आप लोगों ने Basic हिरागाना Letters बनाने सीख लिए होंगे। जापानी भाषा सीखना आसान है लेकिन तब , जब आपको हिंदी आती हो ! दूसरी बात - निश्चित रूप से जापानी भाषा दुनियां की कठिन भाषाओं में मानी जाती है लेकिन असली मजा तो तभी है न जब कठिन काम किया जाय ! कठिन ही तो है , असंभव तो नहीं !! खैर हम हीरागाना की बात कर रहे हैं। हीरागाना , जापानी भाषा की मूल लिपि ( Script ) होती है , मतलब जापान के लोग अपना नाम , अपने देश का नाम और अपनी भाषा में उपलब्ध शब्दों का नाम हीरागाना लिपि ( Hiragana Script ) में लिखते हैं जबकि दूसरे देश , या उनके लोगों के नाम , या फिर जो शब्द उनकी अपनी भाषा में उपलब्ध नहीं हैं , उनके नाम वो काताकाना लिपि ( Katakana Script ) में लिखते हैं !! जैसे अगर जापान के रहने वाले "यामादा जी " अपना नाम हीरागाना ( Hiragana Script ) में लिखेंगे - やまだ और मैं अपना नाम " योगी " काताकाना ( Katakana Script ) में लिखूंगा - ヨギ.


पीछे वाली पोस्ट में आपने आ (A ) , ई (i ) , उ (u ) ,ए (e ) ,ओ (O ) तो सीखा ही , इसके साथ ही आपने का (Ka-Family ) फॅमिली , सा -फैमिली ( Sa Family)  , ता फैमिली( Ta Family)  , ना फैमिली (Na Family )  , हा फॅमिली ( Ha Family )  , मा फॅमिली ( Ma Family )  , या फैमिली ( Ya Family )  और रा फैमिली ( Ra Family)  के Letters के साथ -साथ वा ( Wa ) और वो ( Vo) , न ( N) भी लिखना सीखा है। मित्रो , ये सारे शब्द जापानी भाषा के Basic Letters कहे जाते हैं , हिरागाना लिपि में ! अब थोड़ा और आगे चलते हैं:  आ (A ) , ई(i ) , उ(u ) ,ए(e ) ,ओ (O ) जैसे स्वरों को छोड़कर बाकी सभी अक्षरों पर '' ऐसे निशान बना देने से letter बदल जाता है , ये दो कोमा जैसे होते हैं और इन्हें तेन -तेन बोलते हैं , मतलब जैसे आपके पास का (Ka ) - か है और आपने इसपर तेन -तेन लगा दिया तो ये गा (ga ) -が बन जाएगा ! समझ आया कुछ ? ऐसे ही गी - ぎ, गू ーぐ, गेーげ , गो ーご बनाकर देखिये ! नीचे पिक्चर में भी दिखाया गया है , वहां से भी देख सकते हैं।

अगला परिवार सा परिवार ( Sa Family )  के letters का है। अब यहां सा (Sa) , शी( Shi) , सू(Su) , से(Se) , सो (So) letters पर तेन -तेन लगाकर ज़ा (Za) , जी(Ji) , ज़ू (Zu), ज़े(Ze) , ज़ो(Zo) letters बनाएंगे। बन गए ? प्रैक्टिस करिये ज्यादा से ज्यादा !!

अगला नंबर ता परिवार (Ta Family)  के letters का है जिसमें ता (Ta), ची(Chi) , त्सु (Tsu), ते (Te), तो(To) आते हैं , आप इन पर तेन -तेन लगाकर दा (Da) , दी(Di) , दू (Du), दे (De),  दो( Do)  letters बना सकते हैं !! 

आज की क्लास बस इतनी ही , फिर मिलेंगे जल्दी ही , लेकिन हाँ प्रैक्टिस मत छोड़िये !!


****************%%%%%************

A “ten-ten” mark is basically a single quotation symbol and is added to certain Japanese syllables to make new syllables that sound different. It makes voiced syllables guttural.

We can add “ten-ten” marks to the k, s, t, and h lines of the Japanese syllabary changing the syllables into their gutteral equivalents. An example would be when we place a “ten ten” mark after a voiced ka it becomes its’ gutteralized ga. In other words, ka, ki, ku, ke, ko becomes ga, gi, gu, ge, go.

か、き、く、け、こ becomes が、ぎ、ぐ、げ、ご
か + ” =  が or  ga
き + ” =  ぎ or  gi
く + ”  =  ぐ or  gu
け + ” =  げ or  ge
こ + ” =  ご or  go

In the same manner adding a “ten-ten” mark to
sa, shi, su, se or so will turn them into their gutteralized versions ie. za, zhi (ji), zu, ze, zo etc.

さ、し、す、せ、そ becomes ざ、 じ、 ず、ぜ、ぞ
さ + ” = ざ or za
し + ” = じ or zhi (ji)
す + ” = ず or zu
せ + ” = ぜ or ze
そ + ” = ぞ or zo

We can also add them to the ta line of syllables so that ta, chi, tsu, te, to becomes da, ji, zu, de, and do.

た、ち、つ、て、と becomes だ、ぢ、づ, で、ど
た + ” = だ or da
ち + ” = ぢ or ji (dzi)
つ + ” = づ or zu (dzu)
て + ” = で or de
と + ” = ど or do


**********
 ********




 If you have any query , pl. let me know !!
एक टिप्पणी भेजें