बुधवार, 10 दिसंबर 2014

बोलो श्री बांके बिहारी लाल की जय

इस यात्रा वृतांत को शुरू से पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

सर्वधर्मान्परित्यज्य मामेकं शरणं व्रज।
अहं त्वां सर्वपापेभ्यो मोक्षयिष्यामि मा शुचः||


भगवान श्री कृष्णा को समर्पित न जाने कितने मंदिर अलग अलग नामों से वृन्दावन में स्थित हैं ! अनगिनत उतने ही जितनी भगवन की लीलाएं ! उनमें से ही कुछ मंदिरों के दर्शन करते हैं , आइये ! फोटो देखए हैं :


​वृन्दावन में प्रेम मंदिर के पास स्थित एक और मंदिर में लगी भगवान श्री गणेश की मूर्ति

​वृन्दावन में प्रेम मंदिर के पास स्थित एक और मंदिर में लगी भगवान श्री बजरंगबली  की मूर्ति ​



​कालीदह मंदिर

​कालीदह मंदिर

​कालीदह मंदिर ​में बरगद का बहुत पुराना  वृक्ष

​कालीदह मंदिर ​में बरगद का बहुत पुराना  वृक्ष
​वृन्दावन की पुरानी गालियां ऐसी ही वीरान और जीर्ण शीर्ण हैं
​वृन्दावन की पुरानी गालियां ऐसी ही वीरान और जीर्ण शीर्ण हैं
​मदन मोहन मंदिर 



 



एक टिप्पणी भेजें