शनिवार, 2 अगस्त 2014

इतिहास बताते किले

किले राजवंशों की शान होने के साथ ही वो अहम पुरावशेष व स्मारक हैं, जो इतिहास की गवाही देते हैं। दुनियाभर में अलग-अलग देशों में अलग-अलग राजवंशों ने अपने शौक, समृद्धि और सुरक्षा के लिहाज से न जाने कितने किले बनवाए थे। ये किले आज उन जगहों के इतिहास का हिस्सा बन चुके हैं और उन राजवंशों से जुड़ी यादों को खुद में समेटे हुए हैं। आगे हम दुनियाभर के कुछ ऐसे ही किलों के बारे बताने जा रहे हैं।



स्टाल्कर किला, स्कॉटलैंड

स्कॉटलैंड के आर्गिल में आइलैंड पर बने इस किले को सबसे पहले 1320 में लॉर्ड ऑफ लॉर्न क्लेन मैकडगलस ने बनवाया था। 1338 में लॉर्न की सत्ता संभालने वाले स्टीवर्ट्स ने 1440 में इसे दोबारा बनवाया। तब से अब तक ये इसी रूप में है। 2011 की जनगणना के बाद उस आइलैंड को संरक्षित घोषित कर दिया, जहां ये किला मौजूद है।








कोर्विन किला, रोमानिया

हुनेदोआरा में मौजूद कोर्विन किले को हुनयाद किले के नाम से भी जाना जाता है। इसका निर्माण 1446 में जॉन हुन्यादी के आदेश पर हुआ था, जिन्हें उसी साल हंगरी के साम्राज्य का प्रमुख नियुक्त किया गया था। नए सिरे से मरम्मत के चलते मौजूदा समय में ये किला बिल्कुल दुरुस्त हालत में है।





 




मॉन्ट सेंट माइकल, फ्रांस



फ्रांस के नॉर्मेंडी में एक आइलैंड पर बना ये किला एक किलोमीटर की दूरी में फैला है। फ्रांस की सबसे मशहूर जगहों में एक किले को यूनेस्को ने विश्व धरोहर की सूची में जगह दी है। यहां हर साल करीब 30 लाख पर्यटक पहुंचते हैं।












होहेनजोलर्न किला, जर्मनी

ये किला जर्मनी में स्टटगर्ट से 50 किलोमीटर दक्षिण में मौजूद है। इसे होहेनजोलर्न परिवार का पुश्तैनी किला माना जाता है, जिसका उदय मध्य युग में हुआ और अंत में इस परिवार के वंशज जर्मनी के सम्राट बन गए। किला बर्ग होहेनजोलर्न पहाड़ पर 885 मीटर की ऊंचाई पर बना है। इसका निर्माण 11वीं शताब्दी में हुआ था।










कोकेम किला, जर्मनी
 
यह किला जर्मनी में कोकेम-सेल जिले में मौजूद है। किले का नाम जिले के नाम पर ही रखा गया है। पहाड़ी पर बना ये किला 300 फीट की ऊंचाई पर मौजूद है। आधुनिक रिसर्च के मुताबिक इसका निर्माण भी 11वीं शताब्दी में हुआ।











स्वालोज नेस्ट किला, क्रीमिया


यह खूबसूरत किला क्रीमिया प्रायद्वीप पर याल्टा और अलुप्का के बीच एक छोटे से स्पा शहर गैस्प्रा में स्थित है। इसे 1911-12 के दौरान बनाया गया था। स्वालोज नेस्ट क्रीमिया में पर्यटकों के बीच खासा आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।







लिचेन्स्टेन किला, जर्मनी

यह किला होनाउ के नजदीक एक चट्टान पर बना हुआ है। इतिहासकारों का मानना है कि इसे 1200 के आसपास बनाया गया है। गौरतलब है कि 1311 में रेचक्रेग युद्ध और फिर 1381 में राउटीन्जेन द्वारा किले को दो बार ध्वस्त किया जा चुका है।


उसके बाद से किले को दोबारा कभी भी ठीक नहीं किया गया। वर्तमान में उर्च के राजा इस किले के मालिक हैं और यहां किसी भी बाहरी को प्रवेश की अनुमति नहीं है।





रॉक ऑफ कैसल, आयरलैंड


रॉक ऑफ कैसलव आयरलैंड की टिपरैरी काउंटी में मौजूद एक ऐतिहासिक जगह है। इसे कैसल ऑफ किंग्स और सेंट पट्रिक्स रॉक्स के नाम से भी जाना जाता है। स्थानीय पौराणिक कथाओं के मुताबिक इस किले की स्थापना डेविल बिट्स पहाड़ पर तब हुई थी, जब सेंट पैट्रिक ने वहां मौजूद गुफा से शैतान को भगाया था। हालांकि, नॉर्मेन आक्रमण के पहले ये मनस्टर के राजा का पुश्तैनी किला रहा था। 1101 में मनस्टर के राजा ने इसे चर्च को दान में दे दिया था।






पेल्स किला, रोमानिया


ये किला रोमानिया के सिनाइया शहर में मौजूद है। इसका निर्माण 1873 में शुरू हुआ था, जो 1914 में पूरा हुआ। इसके निर्माण में आज के समय के मुताबिक 12 करोड़ डॉलर की राशि लगी थी। ये रोमानिया के राजा केरौल प्रथम के शासन में बना था।






अरागोनेस किला, इटली

 

यह कैसल एक ज्वालामुखी चट्टान पर बना हुआ है। इसे 474 ईसा पूर्व सिरैक्यूज के हीएरो द्वारा बनवाया गया था। यह किला इस्चिया में सबसे प्रभावशाली ऐतिहासिक स्मारक है। 326 ईसा पूर्व किले पर रोमन का राज चलता था, लेकिन बाद में पर्थेनोपियंस ने इस पर कब्जा कर लिया था।




एक टिप्पणी भेजें